अगर आप PART TIME HOMEBASED WORK में INTERESTED है तो इस वेबसाइट के सबसे निचे दिए गए फॉर्म को जरुर FILL-UP कर दे|

बाजार में आया है 27 लाख का टीवी

 कुछ लोग 17 से 27 लाख के बीच आरामदायक और खुशी से रहने लायक 1 बीएचके बना लेते हैं, यहां कुछ कंपनियों ने इसी रेंज में टीवी लांच किए हैं।  पिछले कुछ समय में कई कंपनियों ने 17-27 लाख रुपये के टीवी लांच किए हैं, लेकिन ये सफल कितने होंगे यह वक्त ही बताएगा.

मायाजाल - हाल के दिनों में कम से कम तीन कंपनियों ने 17-27 लाख रुपये दाम वाले अल्ट्रा एचडी (यूएचडी) टीवी लांच किए हैं यूएचडी टीवी की पिक्सल रिजोल्यूशन क्वालिटी सामान्य एचडी टीवी के मुकाबले चार गुना बेहतर होती है संपन्न ग्राहकों की जरूरतें पूरी करना, बेहतर मार्जिन कमाना और पोर्टफोलियो को विस्तार देना है कंपनियों का मुख्य उद्देश्य

भारत का बाजार आखिर यूं ही नहीं दुनियाभर की कंपनियों के लिए प्रयोगशाला का काम करता है। यहां कंपनियों को हर आय वर्ग के ग्राहक मिल जाने की पूरी उम्मीद होती है। और अक्सर कंपनियों को ऐसे ग्राहक मिल भी जाते हैं, जो बदले में कंपनियों को ज्यादा से ज्यादा दाम के प्रोडक्ट लांच करने को प्रेरित करते रहते हैं। पिछले कुछ समय में भारतीय बाजार में लांच हुए सबसे महंगे टीवी यानी टेलीविजन सेट का मामला भी कुछ ऐसा ही है।

फिलहाल कहा नहीं जा सकता कि भारतीय बाजार में लांच किए गए 17-27 लाख रुपये तक मूल्य के टीवी सेट असल में बढ़ती मांग का परिचायक हैं या महज कंपनियों द्वारा ग्राहकों की खरीद शक्ति परखने के औजार। लेकिन यह सच है कि कई कंपनियों ने इस अति-उच्च दाम वर्ग में अल्ट्रा एचडी टीवी लांच किए हैं।

हाल के दिनों में कम से कम तीन कंपनियों ने 17-27 लाख रुपये दाम वाले अल्ट्रा एचडी (यूएचडी) टीवी लांच किए हैं। इन कंपनियों में सोनी, एलजी व सैमसंग शामिल हैं। इन टीवी का स्क्रीन आकार 84-85 इंच का है। कंपनियों को उम्मीद है कि इन उत्पादों के साथ वे एक अति-उच्च कैटेगरी का निर्माण करने में सफल होंगी और ज्यादा मार्जिन कमाने में कामयाब रहेंगी।

इस बारे में सोनी इंडिया के जनरल मैनेजर (मार्केटिंग) तादातो किमुरा कहते हैं कि अब ग्राहक 55 इंच से ज्यादा बड़े आकार वाली स्क्रीन की मांग करने लगे हैं। इतनी बड़ी स्क्रीन पर एचडी के साथ बेहतरीन पिक्चर क्वालिटी नहीं आती। इसलिए इस तरह की मांग को पूरा करने के लिए बेहतर तकनीक का निर्माण करना अवश्यंभावी हो गया था।

यूएचडी टीवी भारत के लिए तो नया है ही, दुनियाभर के बाजारों में भी इसे हाल ही में लांच किया गया है। हालांकि सोच के स्तर पर कंपनियां बेहद स्पष्ट दिख रही हैं कि इस तरह के टीवी सेट को आम वर्ग के लिए नहीं उतारा जा सकता और इनका ग्राहक वर्ग हमेशा खास ही रहेगा।

एलजी इंडिया के मार्केटिंग प्रमुख (होम इंटरटेनमेंट) ऋषि टंडन कहते हैं कि अल्ट्रा एचडी टीवी एक विशिष्ट सेगमेंट है। हमारे विचार में अल्ट्रा एचडी टीवी के ग्राहक वे होंगे, जो टेक्नोलॉजी की समझ के मामले में सबसे आगे हैं और जिन्हें इस प्रोडक्ट से बेहतरीन अनुभव की तलाश होगी।

अल्ट्रा एचडी टीवी लांच करने वाली तीसरी कंपनी सैमसंग की राय भी इससे जुदा नहीं दिखती। सैमसंग इंडिया के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट (कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स) अतुल जैन कहते हैं कि यह एक नई टेक्नोलॉजी है, जिसे भारत और विदेशी बाजार में लांच किया जा रहा है।

ऐसे में इस वक्त हम भारतीय बाजार में एक नया ग्राहक वर्ग तैयार कर रहे हैं। यूएचडी टीवी की पिक्सल रिजोल्यूशन क्वालिटी सामान्य एचडी टीवी के मुकाबले चार गुना बेहतर होती है। इनमें काफी बड़ी स्क्रीन साइज में ज्यादा सेचुरेटेड कलर्स होते हैं।

वर्तमान में सोनी और एलजी द्वारा पेश की जा रही सबसे बड़ी सामान्य एचडी स्क्रीन साइज 65 इंच है, जिनके दाम 3.60-3.75 लाख रुपये हैं। हालांकि सैमसंग 75 इंच तक के सामान्य एचडी टीवी मुहैया करा रही है, जो 7.5 लाख रुपये की कीमत में उपलब्ध है।


संपन्न ग्राहक वर्ग की जरूरतें पूरी करना, बेहतर मार्जिन कमाना और प्रोडक्ट पोर्टफोलियो को विस्तार देना- यूएचडी टीवी के आगमन के पीछे ये तीन कारक सबसे प्रमुख हैं। जहां सोनी इंडिया के लिए यह बेहतर मार्जिन कमाने का तरीका है, वहीं एलजी ने इसे प्रोडक्ट पोर्टफोलियो को विस्तार देने के लिहाज से लांच किया है।

-------------------------------

-
Mr. Abhishek
www.vic2job.blogspot.com
My facebook link : www.facebook.com/abhi612
My Twitter link : www.twitter.com/vic2dataentry
My Youtube videos : www.youtube.com/user/vic2dataentry